'सबद-लोक’ हमारी अनियतकालीन पत्रिका है जहाँ हम ‘धरोहर’ स्तंभ को छोड़कर अन्य सभी स्तंभों के लिये सिर्फ़ अप्रकाशित-अप्रसारित रचनाएँ ही लेते हैं। अत: जैसे-जैसे हमें आपकी पत्रिकानुकूल सामग्री प्राप्त होगी, उन्हें देखकर शीघ्र ही यहाँ लगाने का यत्न करेंगे और आपको उसके छपने की सूचना भी देंगे। पत्रिका के विविध स्तंभों के लिये आपकी रचनायें सादर आंमंत्रित हैं। अपनी रचनायें हमें कृपया युनिकोड फॉन्ट में ही उपलब्ध करायें। साथ में अपना फोटो, संपर्क-सूत्र और संक्षिप्त परिचय देना न भूलें। कृपया इस ई-पते पर पत्राचार करें और अपनी रचनायें भेंजें: sk.dumka@gmail.com > निवेदक- संपादक मंडल, ‘सबद-लोक’।

सबद-लोक का सदस्य बनें और नये पोस्ट की सूचना लें:

ईमेल- पता भरें:

  पप्‍पू शर्मिन्‍दा है पर नहीं परिन्‍दा है

Saturday, December 26, 2009


जब बजी मोबाइल की घंटी
पप्‍पू बना रहा था दाढ़ी
मतलब काट रहा था
बनाना ही कहते हैं सब।

पप्‍पू ने कहा पत्‍नी से
करो फोन पर बात
पर मेरे बारे में पूछे
तो कह देना
घर में नहीं हैं।

पत्‍नी ने फोन पर
जब की बात
तो कहा
वो घर में हैं।

पप्‍पू चिल्‍ला पड़ा
मैंने कहा था
मेरे लिए फोन हो
तो कहना कि
मैं घर में नहीं हूं।

पत्‍नी बोली तुरंत
पर बहुत प्‍यार से
सहज होकर पप्‍पू प्‍यारे
फोन मेरे लिए था।

पर यह सुनकर
हुआ जो हाल
पप्‍पू का
आप भी आनंद लीजिए
पर हंसिएगा मत
शर्म से गड़ गया
जमीन में पप्‍पू।

2 comments:

Udan Tashtari December 26, 2009 at 5:00 AM  

हा हा!!

vedvyathit December 26, 2009 at 3:11 PM  

fon kisi ka ho chahe bhi
bhna ka ho bhiya ka ho
chahe us ki mata ka ho
yane sasoo ho papoo ki
to papooto bikhrega hi
us ne kb smjhi ve apni
ydi yh smjh sken to
sare jhgde mit jayenge
or tumhare sare papoo
apna sir n dhun payenge
dr. ved vyathit

नीचे बॉक्स में लिंकों को क्लिक कर आप संबंधित पोस्ट को पढ़ सकते हैं -

लिंक-प्रतीक-चिन्ह (LOGO) - सबद-लोक

सबद-लोक

मार्गदर्शन -

* सम्पादन -सहयोग : अरविन्द श्रीवास्तव,मधेपुरा , अशोक सिंह (जनमत शोध संस्थान, दूमका), ,अरुण कुमार झा

* सहायता तकनीकी:अंशु भारती

सबद-लोक का लिंक-लोगो लगायें -

अपनी मौलिक-अप्रकाशित रचनायें कृपया इस पते पर प्रेषित करें -

  • डाक का पता- हंसनिवास, कालीमंडा,
  • हरनाकुंडी रोड,पोस्ट-पुराना दुमका,जिला- दुमका (झारखंड) - 814 101
  • ई-पता = sk.dumka@gmail.com
  • और mail@sushilkumar.net
-:लेखा-जोखा:-

__________

______________

  © Blogger templat@सर्वाधिकार : सुशील कुमार,चलभाष- 09431310216 एवं लेखकगण।

Back to TOP