'सबद-लोक’ हमारी अनियतकालीन पत्रिका है जहाँ हम ‘धरोहर’ स्तंभ को छोड़कर अन्य सभी स्तंभों के लिये सिर्फ़ अप्रकाशित-अप्रसारित रचनाएँ ही लेते हैं। अत: जैसे-जैसे हमें आपकी पत्रिकानुकूल सामग्री प्राप्त होगी, उन्हें देखकर शीघ्र ही यहाँ लगाने का यत्न करेंगे और आपको उसके छपने की सूचना भी देंगे। पत्रिका के विविध स्तंभों के लिये आपकी रचनायें सादर आंमंत्रित हैं। अपनी रचनायें हमें कृपया युनिकोड फॉन्ट में ही उपलब्ध करायें। साथ में अपना फोटो, संपर्क-सूत्र और संक्षिप्त परिचय देना न भूलें। कृपया इस ई-पते पर पत्राचार करें और अपनी रचनायें भेंजें: sk.dumka@gmail.com > निवेदक- संपादक मंडल, ‘सबद-लोक’।

सबद-लोक का सदस्य बनें और नये पोस्ट की सूचना लें:

ईमेल- पता भरें:

  दीपावली पर पप्‍पू जीता बीस करोड़ की लॉटरी

Saturday, October 17, 2009


दीपावली पर्व संध्‍या पर
पप्‍पू ने खरीद ली
बीस रूपये नकद देकर
एक लॉटरी टिकट
इनाम था बीस करोड़।

अखबार में नंबर छपते ही
पप्‍पू गया डीलर के पास
था लाटरी डीलर ईमानदार
काटकर टैक्‍स स्‍त्रोत पर ही
गिनकर पकड़ाये ग्‍यारह करोड़।

पप्‍पू पहले तो पीला हुआ
फिर हो गया गया लाल
पर न हुआ जरा-सा हरा
बोला - जीते हैं मैंने
पूरे बीस करोड़
रूपया भी कम न लूंगा
हैप्‍पी न होऊंगा
पप्‍पू हूं पप्‍पू रहूंगा।

नहीं देते हो पूरे
तो वापिस कर दो
बीस रूपये मेरे।

13 comments:

MUMBAI TIGER मुम्बई टाईगर October 17, 2009 at 5:21 AM  

सुख, समृद्धि और शान्ति का आगमन हो
जीवन प्रकाश से आलोकित हो !

★☆★☆★☆★☆★☆★☆★☆★
दीपावली की हार्दिक शुभकामनाए
★☆★☆★☆★☆★☆★☆★☆★

♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥
ताऊ किसी दूसरे पर तोहमत नही लगाता-
रामपुरियाजी
हमारे सहवर्ती हिन्दी ब्लोग
मुम्बई-टाईगरपर
ताऊ की भुमिका का बेखुबी से निर्वाह कर रहे श्री पी.सी.रामपुरिया जी (मुदगल)
जो किसी परिचय के मोहताज नही हैं,
ने हमको एक छोटी सी बातचीत का समय दिया।
दिपावली के शुभ अवसर पर आपको भी ताऊ से रुबरू करवाते हैं।
पढना ना भूले। आज सुबह 4 बजे.
♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥


दीपावली की हार्दिक शुभकामनाए
हे! प्रभु यह तेरापन्थ
मुम्बई-टाईगर

Udan Tashtari October 17, 2009 at 6:36 AM  

पप्पऊ के कार्यक्रम चलते रहेंगे..आप तो शुभकामनाएँ लिजिये


सुख औ’ समृद्धि आपके अंगना झिलमिलाएँ,
दीपक अमन के चारों दिशाओं में जगमगाएँ
खुशियाँ आपके द्वार पर आकर खुशी मनाएँ..
दीपावली पर्व की आपको ढेरों मंगलकामनाएँ!

सादर

-समीर लाल 'समीर'

M VERMA October 17, 2009 at 7:31 AM  

माल पसन्द नही तो वापस करेंगे ही
दिवाली की मंगलकामना

जी.के. अवधिया October 17, 2009 at 9:35 AM  

वाह! भाई पप्पू तो पप्पू है! बीस रुपये में ही खुश रहता है!!

दीपोत्सव का यह पावन पर्व आपके जीवन को धन-धान्य-सुख-समृद्धि से परिपूर्ण करे!!!

AlbelaKhatri.com October 17, 2009 at 12:45 PM  

आपको और आपके परिवार को दीपोत्सव की

हार्दिक बधाइयां

राज भाटिय़ा October 17, 2009 at 5:50 PM  

पप्पू तो बहुत सयाना है जी, पप्पू के संग आप को भी दीपावली की हार्दिक शुभकामनाए

विनोद कुमार पांडेय October 17, 2009 at 10:19 PM  

बहुत खूब पप्पू का जवाब नही पप्पू कभी बदल नही सकते इनको २० रुपया ११ करोड़ से ज़्यादा बड़ा लग रहा है.धन्य है पप्पू ...बढ़िया रचना मजेदार..धन्यवाद..
दीवाली मंगलमय हो!!!

राजीव तनेजा October 17, 2009 at 10:58 PM  

इसका मतलब पप्पू दिमाग से ज़रा पैदल है तो क्या हुआ?..है तो ईमानदार ना

MANOJ KUMAR October 17, 2009 at 11:13 PM  

कहानी खता,पेसा हजम,
सारांश यह है कि
दिवाली के मौके पर वाकया खास हो गया,
जीवन के इम्तहान मे पप्पू पास हो गया।

गिरीश बिल्लोरे 'मुकुल' October 18, 2009 at 12:37 AM  

दीप की स्वर्णिम आभा
आपके भाग्य की और कर्म
की द्विआभा.....
युग की सफ़लता की
त्रिवेणी
आपके जीवन से आरम्भ हो
मंगल कामना के साथ

गिरीश बिल्लोरे 'मुकुल' October 18, 2009 at 12:55 AM  

दीप की स्वर्णिम आभा
आपके भाग्य की और कर्म
की द्विआभा.....
युग की सफ़लता की
त्रिवेणी
आपके जीवन से ही आरम्भ हो
मंगल कामना के साथ

Anonymous October 18, 2009 at 10:04 AM  

अरे पप्पू तू पप्पू का पप्पू रहा
११ करोड कम नही होते
काश
तुम ये पप्पूपना छोड देते

हरि शर्मा

kulwant happy October 19, 2009 at 1:12 PM  

usko happy ho janaa chahiye tha..varna pappu kangal hi marana padega

नीचे बॉक्स में लिंकों को क्लिक कर आप संबंधित पोस्ट को पढ़ सकते हैं -

लिंक-प्रतीक-चिन्ह (LOGO) - सबद-लोक

सबद-लोक

मार्गदर्शन -

* सम्पादन -सहयोग : अरविन्द श्रीवास्तव,मधेपुरा , अशोक सिंह (जनमत शोध संस्थान, दूमका), ,अरुण कुमार झा

* सहायता तकनीकी:अंशु भारती

सबद-लोक का लिंक-लोगो लगायें -

अपनी मौलिक-अप्रकाशित रचनायें कृपया इस पते पर प्रेषित करें -

  • डाक का पता- हंसनिवास, कालीमंडा,
  • हरनाकुंडी रोड,पोस्ट-पुराना दुमका,जिला- दुमका (झारखंड) - 814 101
  • ई-पता = sk.dumka@gmail.com
  • और mail@sushilkumar.net
-:लेखा-जोखा:-

__________

______________

  © Blogger templat@सर्वाधिकार : सुशील कुमार,चलभाष- 09431310216 एवं लेखकगण।

Back to TOP